हलेना - सरकार ने 15 दिन में मांगें नहीं मानी तो इस बार हलैना से शुरू होगा आंदोलन - News Desktops

Breaking

Wednesday, September 16, 2020

हलेना - सरकार ने 15 दिन में मांगें नहीं मानी तो इस बार हलैना से शुरू होगा आंदोलन




वैर - झालाटाला में बुधवार को गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष किरोड़ी सिंह बैंसला की अध्यक्षता में वैर-भुसावर क्षेत्र के गुर्जर समाज की बैठक हुई। जिसमें राजस्थान सरकार द्वारा पुरानी भर्तियों में एमबीसी को 5 फीसदी आरक्षण का लाभ देने वहीं केंद्र सरकार द्वारा एमबीसी आरक्षण को संविधान की नवीं अनुसूची में शामिल कराने की मांग को लेकर आंदोलन की रणनीति पर चर्चा की गई।
गुर्जर नेता बैंसला ने बैठक में कहा कि उनके द्वारा पिछले दिनों सरकार को 15 दिवस का समय देकर गुर्जरों की वाजिब मांग पर निर्णय लेने को कहा गया है। इसके बाद भी सरकार ने कोई उचित निर्णय नहीं किया तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। जिसकी शुरुआत हलैना के निकट मोलोनी पुल से भी हो सकती है। इसलिए समाज तैयार रहे।
उन्होंने कहा कि गुर्जर समाज शांति से अपनी मांगों को मनवाना चाहता है, लेकिन सरकार ने उचित निर्णय नहीं लिया तो समाज किसी भी हद तक जाने को तैयार है, जिसकी जिम्मेदारी राज्य सरकार की होगी। वैर व भुसावर क्षेत्र से आए 20-25 गांव के पंच पटेलों ने बैंसला की बात का समर्थन करते हुए पूर्ण सहयोग करने का आश्वासन दिया।
नगर| संघर्ष समिति संयोजक किरोड़ी बैसला के पुत्र विजय बैसला ने समाज के लोगों से 5 प्रतिशत एमबीसी आरक्षण को 9 वीं अनुसूची में शामिल कराने के लिए अगले माह दिल्ली कूच का आह्वान किया है। बुधवार को गुर्जर समाज अध्यक्ष के निवास पर बैठक में विजय बैसला ने कहा कि गुर्जर समाज के लोगों को 5 प्रतिशत एमबीसी आरक्षण के तहत राज्य सरकार से 1252 व्याख्याता के पदों को लेकर सामान्य वेतन देने, प्रक्रियाधीन भर्तियों एवं बैकलॉक को तुरंत भरने, आरक्षण आंदोलन के दौरान केसों का निस्तारण आदि की मांग रखी है। राज्य व केन्द्र सरकार को 15 दिन का समय दिया गया है।

No comments:

Post a Comment