भुसावर - ईओ के चहेते को ठेका नहीं मिला तो बोली लगवाने वाले कर्मचारी को कर दिया एपीओ - News Desktops

Breaking

Monday, August 17, 2020

भुसावर - ईओ के चहेते को ठेका नहीं मिला तो बोली लगवाने वाले कर्मचारी को कर दिया एपीओ



भुसावर - ग्रिट, पत्थर, ईंट और डस्ट आदि परिवहन करने वाले वाहनों पर प्रवेश कर बोली को लेकर भुसावर नगर पालिका विवादों में है। ठेकेदारों का आरोप है कि ईओ ने निजी स्वार्थों के कारण कर्मचारी को गलत ढंग से एपीओ कर दिया। इन ठेकेदारों ने जिला कलेक्ट, संभागीय आयुक्त, स्वायत्त शासन विभाग के उपनिदेशक और भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को दिए ज्ञापन मे आरोप लगाया है कि नगर पालिका में प्रवेश कर के लिए 14 अगस्त को खुली बोली की गई थी। इसमें ना तो नगर पालिका अध्यक्ष मुकेश तिवाड़ी मौजूद थे और ना ही ईओ पी.एस. गुर्जर। पालिका का कर्मचारी गौरव शर्मा नीलामी कर रहा था। ठेकेदार लवकेश सैनी का आरोप है कि ईओ के चहेते ठेकेदार मेघराज की बोली जैसे ही एक करोड़ बीस लाख पर पहुंची तो उन्होंने फोन पर कर्मचारी गौरव को तुरंत बोली बंद करने का मौखिक निर्देश दिया। इसका बोली बढ़ाने के इच्छुक ठेकेदारों ने विरोध किया। उसी समय स्थानीय निकाय विभाग के उपनिदेशक और पालिका अध्यक्ष को भी फोन पर शिकायत की गई।
इसके बाद उसी समय बोली आगे बढ़ाई गई। शाम तक चली इस प्रक्रिया में एक करोड़ 21 लाख रुपए की बोली उनके नाम पर छूटी थी। लेकिन, ईओ ने रात में ही कर्मचारियों को बुलवाकर ठेके के कागजों में हेराफेरी करने की कोशिश की। सफल नहीं होने पर बोली निरस्त करने के लिए कर्मचारी यह कहते हुए एपीओ कर दिया कि उसने फाइलों में सफल बोलीदाता ठेकेदार की जगह लवकेश सैनी का नाम लिख दिया। इस संबंध में अधिशासी अधिकारी पी.एस. गुर्जर का पक्ष जानने के लिए भास्कर ने उनसे कई बार संपर्क किया। लेकिन, उन्होंने मामले पर कोई टिप्पणी नहीं की।
खुली बोली के समय ही मेरे नाम पर ठेका छूटा था। नीलामी में ठेकेदार, कर्मचारी, पार्षद और पुलिस मौजूद थी। जिसकी विडियो रिकॉर्डिंग मौजूद है। ईओ ने ठेका अपने चहेते के नाम चढ़वाने के लिए रात को कर्मचारियों को बुलवाया। जिसमें कामयाब नहीं हुए।
लवकेश सैनी, ठेकेदार
बढ़ती हुई बोली के बीच नीलामी रोकने की शिकायत मुझे भी मिली थी। बोली तब तक जारी रहती है जब तक बढ़ रही हो। जब ठेकेदार बोली बढ़ाने को तैयार थे तो ईओ के बोली बंद करने के निर्देश देने का क्या औचित्य था?
मुकेश तिवाड़ी, अध्यक्ष, नगर पालिका, भुसावर

No comments:

Post a Comment