कामां - इद्रं कुंड की चारो तरफ की सुरक्षा दीवारो के निर्माण मे धांधली,राज्य सरकार को लगाया लाखों करोड़ों रुपए का चूना - News Desktops

Breaking

Friday, August 21, 2020

कामां - इद्रं कुंड की चारो तरफ की सुरक्षा दीवारो के निर्माण मे धांधली,राज्य सरकार को लगाया लाखों करोड़ों रुपए का चूना




कामां। राजस्थान सरकार की लाख कोशिश करने के बावजूद भी नहीं सुधरेगा गांवों के हालात , राज्य सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओं का नहीं मिल रहा है ग्रामीणों को लाभ, राज्य सरकार की योजनाएं दिखाई दे रही हैं गांव में विफल , ठेकेदार सरपंच सचिव लगा रहे हैं राज्य सरकार को लाखों करोड़ों रुपए का चूना, विकास कार्यों में की जा रही है धार लेवा धांधली बाजी, साथ ही  निर्माण कार्यों में घटिया सामग्री का किया जा रहा है उपयोग शिकायतें मिलने के बावजूद भी पंचायत विभाग के अधिकारी नहीं देते ध्यान आमजन को झेलनी पड़ रही है खास परेशानियां।

कामा पंचायत समिति के गांव  इन्द्रोली में हुऐ विकास कार्यो की परत दर परत खुलती जा रही है। गांव इद्रोली में पंचायत द्वारा इद्रं कुंड की चारो तरफ की सुरक्षा दीवारो का निर्माण कराया गया था। जिसमें  पूर्व संरपच मथुरादास व ग्राम विकास अधिकारी ने उच्च क्वालिटी का दावा करते हुऐ घटिया सामग्री से निर्माण भी पूरा करा दिया। ठिक उसी समय गांव के जागरुक लोगों ने घटिया सामग्री को लेकर अनेक वार शिकायतें भी की, लेकिन पंचायत अधिकारियों की मिलीभगत होने के कारण कोई खासा असर दिखाई नही दिया ओर ठेकेदार ने जल्दबाजी करते हुऐ कुंड की सुरक्षा दीवारो का निर्माण कार्य पूर्ण भी करवा दिया। लेकिन कहते है की देर है अंधेर नही इद्रं कुड पर भगवान इद्रं देव की मेहरवानी होते हुऐ जोरदार वरसात हुई, वरसात के दौरान इद्रं कुंड कि चारो तरफ की सुरक्षा दिवारे एक के वाद एक ढहती चली गई।  दीवार ढहने की आवाज सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुचे ओर पूर्व संरपच के कार्यकाल में हुऐ बिकास कार्यो को लेकर आक्रोश व्यक्त करते हुऐ जमकर नारेबाजी की गई।। 
हम आपको वता दे की इद्रं कुंड की सुरक्षा दीवारो का निर्माण लाखों लाख रुपये की लागत से कराया गया था जिसमें ठेकेदार, संरपच, सचिव, विकास अधिकारी की मिलीभगत से घटिया निर्माण सामग्री का उपयोग कर निर्माण कार्य पूर्ण करा दिया गया।।  जिस वक्त पोखर की दीवारें एक के बाद एक धराशाई हो रही थी तब ग्रामीणों में स्थानीय लोगों में काफी भय का माहौल बना हुआ था लोग अपने अपने घरों से बाहर निकलकर अपनी व अपने परिवार की जान बचाने में लगे हुए थे दीवार गिरने से दर्जनों लोगों ने जो  अतिक्रमण का पोखर की चारदीवारी पर इन्दर लकड़ी जानवरों के लिए वार्ड बनाए रखे थे वह सभी कुंड में बहस नरेश हो गए जिससे ग्रामीणों का काफी नुकसान देखने को मिल रहा है। गनीमत यह रही कि कोई जनहानि ने हो सकी लेकिन जिस तरह से पोखर की सुरक्षा दीवारें अपने आप एक के बाद एक तहस-नहस हो रही है उसे कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है लेकिन खास बात यह है कि अभी तक प्रशासन का कोई भी अधिकारी मैं पंचायत विभाग का कोई भी कर्मचारी मौके पर नहीं पहुंचा है।

ग्रामीणो ने प्रशासन के अधिकारियों से मांग की है की कुड पर हुऐ बिकास कार्यो की जांच कराई जाऐ ओर दोषियो के खिलाफ सख्त कार्यवाही कर जो जनता का पैसा खा गए है उसकी रिकवरी ( वापसी) कराई जाऐ।   साथ ही ग्रामीणों का कहना है कि ठेकेदार पूर्व सरपंच सहित ग्राम विकास अधिकारी इस मामले को रफा-दफा करने में लगे हुए हैं।। ग्रामीणों का यह भी कहना है कि अगर पोखर के विकास कार्यों की जांच नहीं कराई गई तो आमजन आंदोलन करने के लिए उतारू हो जाएगा जिसका जिम्मेदार प्रशासन होगा।


अमित यादव मुख्यकार्यकारी अधिकारी भरतपुर 
फोन 9682321208

के के जैमन विकास अधिकारी पंचायत समिती कामां (BDO) 
फोन 9414016125

कैलाश कश्यव ग्राम विकास अधिकारी (सैक्टरी) 


हरिओम मीना संवाददाता । 

No comments:

Post a Comment