भरतपुर - कैमरों से हो रही लोगों की गतिविधियों पर नजर - News Desktops

Breaking

Friday, April 3, 2020

भरतपुर - कैमरों से हो रही लोगों की गतिविधियों पर नजर



भरतपुर। कानून व्यवस्था में मदद के तौर शुरू किए अभय कमाण्ड सेंटर की भूमिका इन दिनों खासी बढ़ गई है। लॉक डाउन की पालना कराने में अभय कमाण्ड सेंटर से पुलिस टीम को विशेष मदद मिल रही है। शहर में जहां अनावश्यक लोगों की भीड़ होने या बेवजह सड़कों पर घूमने वालों पर सेंटर के जरिए नजर रखी जा रही है। मुख्यालय पर 337 कैमरे चल रहे हैं, जिनसे वीडियो सर्विलांस रूम (वीसीआर) से नजर रखी जा रही है।गौरतलब रहे कि अभय कमाण्ड सेंटर को मुख्यतय अपराधिक गतिविधियों पर नजर रखने और पुलिस की मदद करना है। यह सेंटर मिनी सचिवालय में पीछे की ओर संचालित है।
सेंटर से कैमरों के जरिए नजर तो रखी ही जा रही है इसके अलावा कोई भी व्यक्ति आपात स्थिति में अभय कमाण्ड सेंटर के डायल 100, 112 और 1090 नम्बर पर भी फोन कर सूचना दे सकते हैं। सूचना की सत्यता की जांच के लिए संबंधित इलाके के पुलिस थाने को अवगत कराया जाता है। जिस पर पुलिस टीम जाकर सूचना पर जांच करती है। सेंटर में प्रतिदिन करीब 4 से 8 फोन आते हैं। वहीं, इसमें एक-दो कॉल फर्जी भी निकलती है।
भरतपुर संभाग के चारों जिलों में अभय कमाण्ड सेंटर के कैमरे हो चुके हैं। इसमें हाल में सवाईमाधोपुर में शुरू हुए हैं। इसमें भरतपुर मं इनकी संख्या 337, धौलपुर में 120 करौली में 35 और सवाईमाधोपुर में 60 कैमरे लगे हुए हैं। इसमें करौली में हाई-वे की वजह से कई इलाकों में कैमरों का ऑपरेशन शुरू नहीं हो पाया है। इसमें लाइव कैमरे भी शामिल है। मुख्यालय में इनकी संख्या 90, जबकि धौलपुर में 52, करौली में 4 और सवाईमाधोपुर में 26 है।
उधर, प्रदेश में लॉक डाउन की कड़ाई से पालना कराने को लेकर जयपुर स्थित सचिवालय में वार रूम स्थापित किया गया है। वहां से अधिकारी भरतपुर संभाग मुख्यालय समेत अन्य जिलों की हर पल की रिपोर्ट ले रहे हैं।अभय कमाण्ड सेंटर में चौबीस धंटे काम हो रहा है। इसमें आईटी विभाग के अधिकारी व कर्मचारी पूरी रखे हुए हैं। इसमें आईटी सेल के संयुक्त निदेशक शर्मा इन दिनों 14 से 16 धंटे कार्य कर रहे हैं। क्वारंटाइन सेंटर पर ड्यूटी के बाद सुबह अभय कमाण्ड सेंटर पहुंच रहे हैं। जिससे सेंटर के कामकाज प्रभावित नहीं हो।
संयुक्त निदेशक आइटी सेल भरतपुर कमल किशोर शर्मा का कहना है कि अभय कमाण्ड सेंटर से लॉक डाउन में लगातार नजर रखी जा रही है। जो भी सूचना होती है, उसे तुरंत कंट्रोल रूम को भेजा जाता है। जिससे तुरंत कार्रवाई हो सके। सवाईमाधोपुर में भी कैमरे शुरू करा दिए गए हैं।

No comments:

Post a Comment