भरतपुर - सीमा सील...फिर भी पैदल सफर कर उत्तरप्रदेश पहुंचे 15 जमाती - News Desktops

Breaking

Sunday, April 5, 2020

भरतपुर - सीमा सील...फिर भी पैदल सफर कर उत्तरप्रदेश पहुंचे 15 जमाती



भरतपुर। सीमा पर कड़े पहरे के बाद भी जमाती कच्चे रास्तों से होकर आसानी से आ जा रहे हैं। एक दिन पहले ही इस प्रकरण को लेकर खूब हंगामा हुआ था। अब एक और मामला सामने आया है। उत्तरप्रदेश के फरह थाने के गांव ओल में रविवार दोपहर भरतपुर शहर से आए 15 जमाती घरों में छिपे हुए थे। इसकी सूचना मिलने पर क्षेत्राधिकारी रिफाइनरी वरुण कुमार, फरह स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ. रामवीर सिंह, एसएचओ शेरसिंह, ओल चौकी प्रभारी संदीप कुमार मौके पर पहुंचे। जहां बड़ी मुश्किल से समझाइश के बाद जमातियों को घरों से बाहर निकाला। उनकी जांच कराने के बाद उन्हें होम आइसोलेट कराया गया। साथ ही उनके घरों के एरिया में एक पुलिसकर्मी की भी ड्यूटी लगाई गई है, ताकि वह घर से बाहर नहीं निकलें। चौकी प्रभारी संदीप कुमार ने बताया कि उक्त जमाती फरह के ही रहने वाले हैं। इनमें ज्यादातर की उम्र 18 से 25 साल के बीच है। ये सभी भरतपुर शहर में स्थित किसी धार्मिक स्थल में रुके हुए थे, जहां से चार मार्च की रात 12 बजे से दो बजे के बीच कच्चे रास्तों से होकर यहां आए हैं। सीमा सील होने के बाद भी यह जमाती कैसे यहां तक पहुंचे। इस बारे में पुलिस के उच्च अधिकारियों की ओर से जांच कराई जा रही है।
गांवों के रास्तों होकर हो रहा आवागमन
भले ही पुलिस की ओर से हरियाणा व उत्तरप्रदेश सीमाओं को सील करने का दावा किया जा रहा है, लेकिन हकीकत यह है कि गांवों के रास्तों से होकर बखूबी आवागमन हो रहा है। हर दिन लोग आ जा रहे हैं। इन्हें रोकने वाला भी कोई नहीं है। पिछले दिनों पहाड़ी इलाके में जमातियों के हरियाणा में प्रवेश करने के मामले में भी यही बात सामने आई थी। ऐसे में खुद भरतपुर पुलिस ने एक टीम को वहां भेजकर संबंधित जमातियों को आइसोलेशन में रखवाया था।

No comments:

Post a Comment