नदबई - पैसो के लालच में नौकर ने की दुकान मालिक की पत्नी की निर्मम हत्या कर, नौकर को मनाती थी बेटा - News Desktops

Breaking

Friday, March 6, 2020

नदबई - पैसो के लालच में नौकर ने की दुकान मालिक की पत्नी की निर्मम हत्या कर, नौकर को मनाती थी बेटा



नदबई। कस्बे के बीच का पाड़ा स्थित सर्राफा दुकान पर काम करने वाले नौकर गुरुवार देर शाम दुकान मालिक की पत्नी की हत्या कर आलमारी में रखी करीब 20 किलो चांदी लूट ले गया। हकीकत यह थी कि दुकान मालिक और उसकी पत्नी नौकर को बेटे की तरह मानते थे और उस पर इतना विश्वास करते थे कि उसके भरोसे ही दुकान को छोड़ जाते थे। महिला की हत्या करने की सूचना पर देर रात एडिशनल एसपी मुख्यालय मूलसिंह राणा ने मौके पर जांच पड़ताल की। बाद में ग्रामीण सीओ अनिल मीणा के नेतृत्व में एफएसएल टीम ने घटनास्थल की जांच पड़ताल कर साक्ष्य एकत्रित कर शव को सीएचसी के मुर्दाघर में रखवाया। बाद में मेडिकल बोर्ड से महिला के शव का पोस्टमार्टम कराया। वहीं, कस्बे के मुख्य बाजार से पुलिस ने आरोपी नौकर को गिरफ्तार कर लिया। एसएचओ दुलीचंद गुर्जर के अनुसार चांदी व्यापारी अजय शर्मा अपने पुत्र नीरज शर्मा व कारीगर लोकेश के साथ चांदी सामान बिक्री करने आगरा गया। इसी दौरान दुकान पर कार्यरत नौकर कस्बा निवासी नरेश बघेला पुत्र केहरी बघेला दुकान मालिक की पत्नी मधु शर्मा की हत्या कर अलमारी से करीब 20 किलो चांदी लेकर फरार हो गया। पुलिस ने मौके पर जांच पड़ताल कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। घटना को लेकर पीडि़त व्यापारी अजय शर्मा पुत्र दामोदरलाल शर्मा ने पुलिस में मामला दर्ज कराया।
शाम को ही बना चुका था लूट की योजना
सूत्रों की मानें तो हत्या का आरोपी नौकर करीब छह साल से सर्राफा दुकान पर मजदूरी कर रहा था। इसके चलते आरोपी नौकर पीडि़त परिवार का विश्वासपात्र था। पीडि़त व्यापारी अन्य जगह सामान बिक्री करने जाने के दौरान आरोपी को चाबी सौंप जाता था। इतना ही नहीं पीडि़त व्यापारी के परिवार में सदस्य की तरह रहता था। घटना से पहले भी पीडि़त व्यापारी आरोपी सहित एक अन्य नौकर महरमपुर निवासी वीनेश पुत्र गोपाल सैनी को दुकान पर छोड़कर सामान बिक्री करने गया। आरोपी ने महिला की हत्या से पहले दुकान पर मजदूरी कर रहे साथी वीनेश सैनी को दुकान की चाबी लेते हुए अपने घर भेज दिया। देर शाम महिला को अकेला देख आरोपी ने महिला के सिर पर भारी हथियार से हमला कर बेहोश कर दिया। इतना ही नहीं कपड़े (तौलिया) से महिला का गला दबाते हुए दीवार से सिर टकरा-टकरा कर हत्या कर दी। बाद में मकान के पीछे गली से फरार हो गया।
जिसने विश्वास किया...उसका ही घोंट दिया गला
मृतका का पति अजय शर्मा घटना के बाद घंटों तक चुप रहा। जब उसकी पत्नी का शव घर से बाहर लाया गया तो वह दहाड़ें मारकर विलाप करते हुए एक ही बात कहता रहा कि जिस पर इतना विश्वास किया, उसने उस विश्वास का ही गला घोंट दिया। मधु तो कई बार उसे खाना तक खिलाती थी। उसे बेटा कहकर बोलती थी। पता नहीं था कि एक दिन वो ही उसकी जिंदगी उजाड़ देगा।

नौकर, किरायेदार का पुलिस से सत्यापन जरूरी

जिले में बड़ी संख्या में दुकान, मकानों में नौकर हैं तो किरायेदारों की संख्या भी कम नहीं है, लेकिन हकीकत यह है कि खुद लोग भी इतने जागरूक नहीं है कि वह संबंधित थाने में जाकर उनका सत्यापन कराएं। पिछले करीब पांच साल के दौरान इतनी घटनाएं हो चुकी हैं कि कई बार किरायेदार व नौकरी की भूमिका सामने आती है। ऐसे में पुलिस के लिए भी ऐसे केसेज में आरोपी को पकडऩा मुश्किल हो जाता है। इसलिए लोगों को चाहिए कि वह खुद ही नौकर व किरायेदार का पुलिस से सत्यापन अवश्य कराएं।

महिला की हत्या कर चांदी लूट के मामले में एसआई पंजाब सिंह व कांस्टेबल प्रतापसिंह ने पीछा करते हुए आरोपी को पकड़ा। आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है। मामले में सभी पहलुओं की जांच पड़ताल के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

अनिल मीणा, ग्रामीण पुलिस सीओ भरतपुर।

No comments:

Post a Comment