बयाना - 19 दिन बाद कुंए में तैरते मिले शादी के कार्ड बांटने के दौरान लापता हुए चाचा-भतीजे के शव, - News Desktops

Breaking

Wednesday, February 19, 2020

बयाना - 19 दिन बाद कुंए में तैरते मिले शादी के कार्ड बांटने के दौरान लापता हुए चाचा-भतीजे के शव,


बयाना। कस्बे में गत एक फरवरी को चाचा के साथ खुद की शादी के कार्ड बांटने जाने के दौरान लापता हुए भतीजे युवक गांव नगला पुरोहित निवासी बब्बन जाटव व उसके चाचा किशन सिंह दोनों के शव 19 दिन बाद कैलादेवी झील-वैर मार्ग स्थित गांव बछैना के पास सड़क सहारे कुंए के पानी में तैरते मिले हैं।
चाचा-भतीजे के पास मौजूद बाइक को भी कुंए से बरामद किया गया है।
सूचना मिलने के बाद पुलिस ने बुधवार सुबह हाइड्रा क्रेन की सहायता व अस्पताल की मोर्चरी में तैनात युवकों ने कुएं में उतर कर करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद पहले दोनों शवों को व बाद में बाइक को कुएं से बाहर निकाला।
बाद में दोपहर को पुलिस ने सीएचसी की मोर्चरी में शवों का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिए।
सूचना पर सुबह एएसपी (एडीएफ) सुरेश खींची, एसडीएम संतोष कुमार मीणा, डीएसपी खींवसिंह राठौड़, तहसीलदार जीपी बंसल, एसएचओ मदनलाल मीणा, उच्चैन एसएचओ रामचंद्र मीणा, गढीबाजना एसएचओ कैलाश बैरवा, रुदावल एसएचओ मुकेश कुमार सहित पुलिस व क्यूआरटी का जाब्ता मौजूद रहा।
वहीं शव निकालने के दौरान आसपास के ग्रामीणों की बडी संख्या में भीड़ एकत्र हो गई। मौके पर पहुंची एफएसएल व विधि विज्ञान प्रयोगशाला की टीमों ने भी घटनास्थल से साक्ष्य एकत्र किए हैं।
चाचा-भतीजे की मौत को लेकर परिस्थितियों के आधार पर जहां पुलिस प्रथम दृष्टया मामले को एक्सीडेंटल मान रही है वहीं मृतकों के परिजनों ने गांव के ही अपने पड़ौसी शिब्बो उर्फ शिवसिंह पर शक जाहिर करते हुए हत्या करने के आरोप लगाए हैं।
किसान को कुएं से आई दुर्गन्ध तो पता चला
मंगलवार शाम को कुएं के पास स्थित खेत में एक किसान पानी दे रहा था तभी उसे कुएं की तरफ से तेज दुर्गन्ध आई।
किसान ने कुएं के पास जाकर झांककर देखा तो उसमें उसे शव तैरते दिखाई दिए।
किसान ने यह बात ग्रामीणों को बताई तथा ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी।
इस पर मंगलवार रात को सीओ व एसएचओ मय जाब्ते के मौके पर पहुंचे तथा शवों को निकलवाने के प्रयास किए। लेकिन अंधेरा व पर्याप्त संसाधन नहीं होने से बुधवार सुबह क्रेन मंगाकर शवों को कुएं से बाहर निकलवाया गया।
19 दिन से शवों के पानी में गलने से उनमें हुई दुर्गन्ध इतनी तेज थी कि मौके पर मौजूद पुलिस व प्रशासन के लोगों को मास्क लगाने पडे।
मृतक बब्बन की 16 फरवरी को होनी थी शादी
मृतक युवक बब्बन की 16 फरवरी को अपने बडे भाई कप्तान सिंह के साथ शादी होनी थी तथा बारात मथुरा के उमरी रामपुर जानी थी। लेकिन उसके लापता हो जाने के कारण शादी नहीं हो सकी। बब्बन के लापता होने से उसकी बेवा बुजुर्ग मां फूलवती सदमे में आ गई थी।
अंतिम बार भुसावर से निकलने पर परिजनों से हुई थी बात
मृतक बब्बन अपने चाचा किशन सिंह के साथ बाइक से एक फरवरी की सुबह घर से रिश्तेदारियों में शादी के कार्ड बांटने निकला था।
जो बागरैन होते हुए भुसावर के रणधीरगढ में कार्ड देकर शाम को वापस लौट रहे थे।
तब भुसावर से उनकी मोबाइल पर परिजनों से बात हुई थी।
लेकिन दोनों रात तक घर नहीं पहुंचे तो अगले दिन परिजनों ने खोजबीन शुरु की।
बाद में 3 फरवरी को पुलिस को सूचना दी तथा 5 फरवरी को मां फूलवती ने पुलिस में गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने मोबाइल टॉवर लोकेशन व बयाना-भुसावर मार्ग पर वैर के टोल प्लाजा व राजगढ-सुंहास मार्ग पर शराब के ठेके पर सीसीटीवी फुटेज खंगाले।
जिनमें दोनों वैर टोल प्लाजा पर एक फरवरी को शाम करीब 5:30 बजे दिखाई दिए। इससे अनुमान है कि दोनों वैर से झील होते हुए वापस गांव की तरफ आ रहे थे।
परिजनों ने पडौसी पर शक जता लगाया हत्या का आरोप
उधर, गांव नगला पुरोहित मेंy चाचा-भतीजे के शव मिलने की सूचना पर परिवार में कोहराम मच गया परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया।
मृतक बब्बन के भाई कप्तान व मां फूलवती ने आरोप लगाया कि उनकी पडौसी शिब्बो उर्फ शिवसिंह से कई सालों से रंजिश चल रही है तथा सगाई होने के बाद शिब्बो ने खुलेआम धमकी दी थी कि वह उनकी शादी नहीं होने देगा। परिजनों ने आरोप लगाया कि शिब्बो ने ही षडयंत्र रचकर चाचा-भतीजे की हत्या कराई है तथा उसे दुर्घटना का रुप दिया है।
वहीं मौके पर ही मौजूद शिवसिंह ने बताया कि मृतक के परिजनों द्वारा लगाए जा रहे आरोप निराधार हैं।
पुलिस उससे पहले भी पूछताछ कर चुकी है तथा अगर वह दोषी होगा तो कानून उसे सजा देगा।
एडीशनल एसपी सुरेश खींची ने बताया कि घटनास्थल की परिस्थितियों व एफएसएल की प्रारम्भिक राय के अनुसार मामला प्रथम दृष्टया दुर्घटना का नजर आ रहा है।
ऐसा अनुमान है कि मृतक चाचा-भतीजे वैर की ओर से बाइक से आ रहे हों और घटनास्थल पर विकट मोड़ होने के कारण बाइक का संतुलन बिगड गया हो और अंधेरा होने से दोनों बाइक समेत सड़क सहारे कुएं में गिर गए हों।
अगर परिजन पडौसी पर शक जता रहे हैं तो उस एंगल से भी मामले की जांच की जाएगी।

No comments:

Post a Comment