भरतपुर - पंचायत चुनाव के बाद भरतपुर के कई गांव में मारपीट के मामले आ रहे हैं सामने - News Desktops

Breaking

Friday, January 24, 2020

भरतपुर - पंचायत चुनाव के बाद भरतपुर के कई गांव में मारपीट के मामले आ रहे हैं सामने



भरतपुर। जिले में पंचायत चुनाव के दो चरण शांतिपूर्वक तरीके से पूरे हो चुके हैं लेकिन अब चुनाव के बाद हारे हुए प्रत्याशियों द्वारा दलित समाज के लोगों पर दबंगई दिखाने के मामले सामने आने लगे हैं। 
जिले के कई गांवों में ऐसी घटनाएं सामने आई है जहां हारे हुए प्रत्याशियों द्वारा दलित समाज के लोगों के साथ मारपीट की गई है। 
बीती रात ग्राम पंचायत मलाह में ऐसी ही घटना घटित हुई और उसके विरोध में दलित समाज के सैकड़ों लोगों ने जिला कलेक्टर निवास पर पहुंचकर अपनी पीड़ा सुनाई। 
जिला कलेक्टर के निर्देश पर एसडीएम व पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर पूरे हालात का जायजा भी लिया था। 
इसके अलावा बोरई ग्राम पंचायत के सेह-बावेन गांव के रहने वाले दलित समाज के लोगों ने एसपी ऑफिस पहुंचकर अपना विरोध जताया। 
जिले के सुपाबस, पीपला,महरौली आदि गांवों में भी ऐसी घटनाएं होने की जानकारी मिली है। 
सूत्रों से जो जानकारी मिल रही है उसके अनुसार पंचायत चुनावों में पैसे का खुला खेल चला है और जो प्रत्याशी भारी भरकम पैसा खर्च करने के बाद चुनाव हार गए वह अपनी हार का जिम्मेदार दलित समाज के उन लोगों को मान रहे हैं जिनको उसने रकम बांटी थी। 
इधर दलित समाज के लोगों के साथ दबंगों द्वारा की जा रही मारपीट की घटना के विरोध में भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने सारस चौराहे से जुलूस निकालकर आईजी ऑफिस पर प्रदर्शन किया।

No comments:

Post a Comment