कामां - फांसी लगाकर युवक ने की आत्महत्या , परिजनों ने कराया हत्या का मामला दर्ज कामा डींग रोड पर लगाया जाम। - News Desktops

Breaking

Thursday, December 26, 2019

कामां - फांसी लगाकर युवक ने की आत्महत्या , परिजनों ने कराया हत्या का मामला दर्ज कामा डींग रोड पर लगाया जाम।





कामां कस्बा के किशोरी पायशा मोहल्ला निवासी युवक नेमीचंद सैनी ने कोसी रोड स्थित चंबल परियोजना कार्यालय के एक कमरे में गले मे फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।
घटना की सूचना मिलने पर कामां थाना पुलिस मौके पर पहुंती और शव को फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए कामां अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया।  जिसका सुबह दोपहर मेडिकल बोर्ड द्वारा पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सुपुर्द किया
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार कामां कस्बा के किशोरी पायशा मोहल्ला निवासी नेमीचंद पुत्र पप्पूराम सैनी चंबल परियोजना कार्यालय में खाना बनाने का कार्य करता था जिसने अज्ञात कारणों के चलते देर रात को कार्यालय के ही एक कमरे में छत के कुंदे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली| हत्या या आत्महत्या को मद्देनजर रखकर मामले की जांच की जा रही है।

 वहीं दूसरी तरफ प्रातः परिजनों ने हत्या का मामला दर्ज करवा कर पुलिस की कार्यवाही से नाराज लोगों कामा- डीग रोड पर जाम लगा दिया जिससे वाहनों की लंबी कतार लग गई। सूचना पर कामा थाना अधिकारी धर्मेश दायमा मौके पर पहुंचे और जाम को खुलवाया फ़िलहाल में पुलिस मामले की जांच कर रही है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार परिजनों ने बताया कि मृतक  नेमीचंद चंबल परियोजना कार्यालय में खाना बनाने का कार्य काफी समय से कर रहा था लेकिन बार-बार कहने के बावजूद भी चंबल परियोजना के अधिकारियों ने प्रतिमाह का वेतन नहीं दिया।।
 करीब 15- 16 महीने से उसके लिए वेतन न मिलने से वह मानसिक पीड़ा से ग्रस्त था और परिजनों ने बताया कि मृतक घर से बोल कर गया था कि आज में  कंपनी से पैसे लेकर आऊंगा अगर पैसे नहीं दिए तो मैं पुलिस में मुकदमा दर्ज कराऊंगा क्योंकि जब जब भी वह पैसा मांगता था तो कंपनी के लोग उसके साथ मारपीट की वारदात करते थे।
 वारदात होने के बाद कंपनी में कार्य कर रहे चार पांच व्यक्तियों ने भी बताया कि कई महीनों से कंपनी मालिक ने हमारा 10- 12 महीने का वेतन अभी तक नहीं दिया है।
 हमने वेतन के बारे में कई बार शिकायत वह फोन भी किया लेकिन वह लोग सुनते ही नहीं हैं और काम से हटाने की धमकी भी देते हैं।

No comments:

Post a Comment