भरतपुर - शीत कालीन अवकाश के बीच सैलानियों का घने में जमावडा - News Desktops

Breaking

Friday, December 27, 2019

भरतपुर - शीत कालीन अवकाश के बीच सैलानियों का घने में जमावडा



भरतपुर। सर्दियों के मौसम में केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान में सैकड़ों प्रजातियों के प्रवासी और अप्रवासी पक्षी वंश वृद्धि के लिए प्रवास करते है।
ऐसे में इन पक्षियों को देखने के लिए तथा साथ ही पृकृति का लुत्फ लेने के लिए इस मौसम में सैलानी उद्यान में भ्रमण पर आते है। वैसे तो दिसम्बर से जनवरी माह के बीच सैलानियों के लिए केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान आकर्षण का केन्द्र रहता है। 
लेकिन स्कूल काॅलेजो में शीत कालीन अवकाश के बीच सैलानियों का घने में जमावडा रहता है। 25 दिसम्बर से 26 जनवरी तक विदेशी सैलानियों के साथ साथ देशी सैलानी भी बहुतायत में घना का भ्रमण करने आते है। 
बुधवार से स्कूल काॅलेजों में सर्दियों का अवकाश शुरू होने के साथ ही स्कूल काॅलेज के बच्चों का समूह घना का भ्रमण करने के लिए पहुचना शुरू हो गया है। 
जिसके चलते अब केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान में देशी विदेशी सैलानियों की भीड दिखाई देने लगी है। सबसे ज्यादा उत्साह पहली बार घने के भ्रमण पर पंहुचें बच्चों में दिखाई दे रहा है। 
बच्चौं का कहना था कि पहली बार घने के भ्रमण पर आए है अब तक सिर्फ घना के बारे में सुना था लेकिन आज पहली बार घने को पास से देखने को मिला है। 
विदेशी पक्षियों के साथ साथ पृकृति को पास से देखने का मौका मिल रहा है। इसके साथ ही हिरणों सहित कई जंगली पशुओं को भी देखने का मौका मिला। 
वहीं सर्दियों के मौसम में सैलानियों के लिए इस मौसम में बोट की सुविधा भी घना प्रशासन के द्वारा दी जाती है।

No comments:

Post a Comment