भरतपुर - हेलक निवासी रिटायर फौजी ने बदली शमशान घाट की तस्वीर - News Desktops

Breaking

Sunday, December 29, 2019

भरतपुर - हेलक निवासी रिटायर फौजी ने बदली शमशान घाट की तस्वीर



भरतपुर। जब मन मे कुछ कर गुजरने की ललक तो रास्ते खुद ही नजर आने लगते है ये वाक्या है। 
कुम्हेर क्षेत्र के हेलक ग्राम पंचायत में स्थित शमशान घाट में व्याप्त अव्यवस्था अलावा लम्बे समय से कई अन्य समस्याओं को देखकर नेवी से रिटायर्ड कौशल बैसलॉ के मन मे इन समस्याओं के समाधान का विचार आया तो उन्होंने एनजीओ लूपिन के सहयोग से इन समस्याओं का अंत भी करवा दिया गया। 
भारतीय सेना से रिटायर होने के बाद जब कौशल बैंसला ने देखा गांव के अंदर एक भी शमशान घाट ऐसा नहीं है जिसके ऊपर कोई टीन सैड या पक्की छत हो ताकि बरसात के दिनों में मृतक के पार्थिक शव का दाह संस्कार किया जा सके इस समस्या को देखकर उनके मन मे तभी से गांव के लिए संकल्प लिया कि मैं हेलक गांव की पंचायत को टीन सैड युक्त श्मशान घाट बनवाऊंगा यह संकल्प लिया।
लूपिन फाउंडेशन की सहायता से हेलक पंचायत के अंदर पक्का टिन युक्त श्मशान घाट बनवाया और नगला गयासिया मैं भी टिन सैड डलवाया।
हेलक गुरुद्वारे मैं भी टीन सैड से डलवाया|नगला गयासिया गांव में भी ग्रामीणों की समस्याओं का समाधान किया है।

No comments:

Post a Comment