- News Desktops

Breaking

Wednesday, December 25, 2019



हलैना। कस्बे के समीप गाव सरसेना से जहां हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी गांव सरसैना में वीर शिरोमणि महाराजा सूरजमल के 256 वे बलिदान दिवस मनाया गया,यह कार्यक्रम सर्सैना गांव के बाबा फतेहसिंह स्मारक पर किया गया।
इस कार्यक्रम को शुभारंभ करने के लिए हवन किया गया।
यह कार्यक्रम राजवीर  सरसेना के नेतृत्व में हुआऔर इस कार्यक्रम की अध्यक्षता देवेन्द्र सिंह फौजी ने की,महाराजा सूरजमल विकास मंच के अध्यक्ष राजवीर सरसेना ने कहा कि महाराजा सूरजमल देश के एकमात्र अविजित महाराजा थे।
वे त्याग ,बलिदान,वीरता की साक्षात् मूर्ति थे,महाराजा सूरजमल ने अपनी वीरता से अपने राज्य का न केवल विस्तार किया बल्कि मुगलों का अपने आगे घुटने टेकने को मजबूर कर दिया,राजवीर  सरसेना ने कहा कि युवाओं को महाराजा सूरजमल के इतिहास को पढ़कर उनसे सीख लेनी चाहिए।

No comments:

Post a Comment