वैर - जिला कलक्टर ने वैर-बयाना उपखण्ड क्षेत्र के अधिकारियों की बैठक लेकर दिये आवश्यक निर्देश - News Desktops

Breaking

Tuesday, December 17, 2019

वैर - जिला कलक्टर ने वैर-बयाना उपखण्ड क्षेत्र के अधिकारियों की बैठक लेकर दिये आवश्यक निर्देश




वैर। जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने मंगलवार को बयाना के उपखण्ड कार्यालय में उपखण्ड स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेकर क्षेत्र की समस्याओं के निराकरण एवं विकास कार्यों पर चर्चा की। 
बैठक में जिला कलक्टर ने राजस्थान सम्पर्क पोर्टल 181 पर दर्ज परिवादों का समय पर प्रभावी रूप से निस्तारण करने के निर्देश दिये साथ ही ब्लाॅक स्तरीय साप्ताहिक बैठक में पोर्टल पर दर्ज परिवादों की प्रगति की नियमित समीक्षा किये जाने के भी निर्देश दिये। उन्होंने ईडब्ल्यूएस, जाति, मूल निवास प्रमाण पत्रों का नियत अवधि में निस्तारण करने, आरसीएमएस पोर्टल को प्रतिदिन अपडेट करने के निर्देश दिये तथा कोर्ट कार्यों की समीक्षा की गयी। 
उन्होंने पंचायतीराज चुनाव 2020 के लिए बुधवार को सरपंच एवं वार्ड पंचों के निकाली जाने वाली आरक्षण लाॅटरी की चल रही तैयारियों की भी समीक्षा की। 
उन्होंने बयाना में भीम नगर से पंचायत समिति तक आरएसआरडीसी द्वारा निर्माणाधीन सड़क एवं नाली की गुणवत्ता एवं पानी भराव को देखकर नाराजगी जाहिर की। 
उन्होंने विकास अधिकारी से पीएमएवाई योजना में स्वीकृत आवासीयों द्वारा मकान निर्माण न कराने वालों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिये। उन्होंने खनिज विभाग के अभियंता  को निर्देश दिये कि वे अवैध खनन के सम्बंध में मिल रही शिकायतों पर अविलम्ब कार्यवाही करें तथा संयुक्त अभियान चलाकर अवैध खनन पर प्रभावी रोकथाम करें। 
इसके पश्चात जिला कलक्टर ने बयाना सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण किया तथा ओपीडी व इंडोर में भर्ती मरीजों से स्वास्थ्य सुविधाओं के बारे में बातचीत की। 
उन्होंने मरीजों की निःशुल्क जांच एवं निःशुल्क दवा वितरण योजना की जानकारी ली तथा चिकित्सा संस्थान की सफाई व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त रखने व सोनोग्राफी मशीन का नियमित संचालन कराये जाने के निर्देश दिये। इसके पश्चात् जिला कलक्टर ने उपखण्ड वैर का दौरा किया गया तथा उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार तथा विकास अधिकारी के साथ के बैठक में विभिन्न योजनओं की समीक्षा के दौरान दिशा-निर्देश दिये जिसके अन्तर्गत राजस्व न्यायालय में लम्बित प्रकरणों का त्वरित गति से निस्तारण, महानरेगा में प्रत्येक ग्राम पंचायत तथा उसके प्रत्येक ग्राम में कार्य अधिकाधिक कार्य किये जाने तथा अधिक श्रमिक लगाने, खाद्य सुरक्षा, पेंषन, विभिन्न प्रकार के प्रमाण पत्र जैसे जाति, मूल निवास, ईडब्ल्यूएस इत्यादि के लम्बित प्रकरणों का तय समयावधि में निस्तारण किये जाने के निर्देश् दिये जिससे पात्र व्यक्तियों तक जन कल्याणकारी योजनओं का लाभ पंहुच सके और पटवारी तथा ग्राम विकास अधिकारियों को अपने मुख्यालय पर रहने के लिये पाबन्द किया जाये। 
उन्होंने निर्देश दिये कि गिरदावरी शत प्रतिशत मोबाइल एप के माध्यम से ही हो साथ ही ब्लाॅक स्तरीय अधिकारियों यथा बिजली विभाग, जलदाय विभाग, खनन, पीडब्ल्यूडी, शिक्षा विभाग की साप्ताहिक बैठकें की जाकर विभागीय प्रगति से अवगत करावें, लापरवाही पाये जाने पर इन विभागीय अधिकारियों के विरूद्व कार्यवाही प्रस्तावित करें। 
इसके अतिरिक्त जिला कलक्टर द्वारा राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय का भी निरीक्षण किया गया जिसमें बोर्ड की परीक्षाओं में बैठने वाले छात्राओं हेतु अतिरिक्त कक्षायें लगाई जाकर पाठ्यक्रम का रिवीजन के लिये निर्देशित किया एवं विद्यालय की रसोई से उठते धुंये को देखकर संस्था प्रधान से इसका कारण जानना चाहा तो संस्था प्रधान द्वारा रसोई का गैस चूल्हा खराब होना बताया जिस पर द्वारा उसे अबिलम्व ठीक कराने हेतु निर्देशित किया गया ताकि धूंए से किसी को नुकसान नहीं हो।

No comments:

Post a Comment