बयाना के पूर्व विधायक अतर सिंह भड़ाना पर फर्जी पार्टनरशिप डीड तैयार करके सिलिका माइंस पर कब्जा करने का आरोप - News Desktops

Breaking

Saturday, September 14, 2019

बयाना के पूर्व विधायक अतर सिंह भड़ाना पर फर्जी पार्टनरशिप डीड तैयार करके सिलिका माइंस पर कब्जा करने का आरोप



वैर तहसील के भौंडा गांव स्थित जिले की सबसे बडी सिलिका सैंड की माइंस मेंं हिस्सेदारी को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। माइनिंग फर्म के एक पार्टनर ने अपने दूसरे पार्टनर सहित बयाना के पूर्व विधायक अतर सिंह भडाना पर मिलीभगत कर फर्जी दस्तावेज तैयार कर माइंस में से उसकी हिस्सेदारी खत्म करने का मामला पुलिस थाने में दर्ज कराया है। पुलिस के अनुसार जयपुर के पांच्यावाला समता नगर निवासी मुकेश चंद ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया कि उसकी व उसके रिश्तेदार सुभाष चंद की 50-50 प्रतिशत की पार्टनरशिप में भौंडा गांव में माइंस थी। वर्ष 2011 में बयाना के पूर्व विधायक अतर सिंह भडाना ने अपने राजनैतिक रसूख का इस्तेमाल कर उपयोग करते हुए तथा दूसरे पार्टनर सुभाष चंद को अपनी ओर मिलाकर अपने रिश्तेदार कुलदीप नागर के पक्ष में यह कहते हुए पॉवर ऑफ अटार्नी करा ली कि इस पॉवर ऑफ अटार्नी का उपयोग केवल सुभाष चंद के आधे हिस्से तक ही सीमित रहेगा। रिपोर्ट में आरोप है कि बाद में पूर्व विधायक ने टैक्स कंसलटेंट त्रिलोकचंद जैन व प्रवीण गुप्ता के साथ मिलकर उसके फर्जी हस्ताक्षर कर फर्जी पार्टनरशिप डीड तैयार करा ली तथा अपनी प|ी कमलेश भडाना व पुत्र अर्जुन भडाना को फर्म में शामिल कर मुकेश चंद की हिस्सेदारी खत्म करने का प्रयास किया। रिपोर्ट में बताया कि फर्जी दस्तावेजों का उपयोग खनिज, पर्यावरण व रजिस्ट्रार ऑफ फम्र्स कार्यालयों में इस्तेमाल कर धोखाधडी की।

कई वर्षों से खान चला रहे हैं पूर्व विधायकपूर्व विधायक भडाना पिछले कई वर्षों से खान पर ही रहकर उसे संचालित कर रहे हैं। भडाना के इस खान में शामिल होने से पहले यह खान डंप पड़ी हुई थी और विवादों से घिरी हुई थी। लेकिन अब यह खान सुचारु हालत में आने लगी है। गौरतलब है कि अन्य खानों की तुलना में सिलिका सैंड की खानें अधिक बेशकीमती मानी जाती हैं।

No comments:

Post a Comment