भुसावर - पूर्व प्रधान और उसकी पत्नी की कनपटी पर बंदूक रखकर ले गए तीन बंदूकें - News Desktops

Breaking

Wednesday, September 25, 2019

भुसावर - पूर्व प्रधान और उसकी पत्नी की कनपटी पर बंदूक रखकर ले गए तीन बंदूकें



भुसावर। गांव पथैना निवासी पूर्व प्रधान भूपेन्द्र सिंह के घर में देर रात मकान की दीवार फांदकर घुसे आधा दर्जन नकाबपोश हथियारबंद बदमाशों ने पति-पत्नी को हथियार का भय दिखाया और घर में रखीं लाइसेंसधारी तीन बंदूकों को लेकर फरार हो गए और कमरे का बाहर से दरवाजा बंदकर पीडित पति पत्नी को कमरे में बन्द कर दिया। 
जिसके बाद बच्चों और पुलिस को घटना की जानकारी दी। 
सूचना मिलते ही भुसावर सीओ महेन्द्र कुमार शर्मा मय पुलिस मौके पर पहुंची और घटना की जानकारी लेते हुए नाकाबंदी कर बदमाशों को पकडऩे का प्रयास किया। गांव पथैना निवासी पीडित 75 वर्षीय पूर्व प्रधान भूपेन्द्र सिंह पुत्र ठाकुर ध्रुवसिंह जाट ने बताया कि सोमवार की देर रात्रि करीब 1 बजे मैं व मेरी पत्नी राजकुमारी मकान के अन्दर एसी वाले कमरे में सोए हुए थे। 
तभी अचानक गेट तोड़ने जैसी आवाज आयी तो हम जाग गए। 
इतने में ही चार नकाबपोश हथियारबंद बदमाशों ने कमरे में प्रवेश किया और मेरे एवं मेरी पत्नी की कनपटी पर हथियार लगाते हुए बच्चों के बारे में पूछा। जिस पर मैने कहा कि वे जयपुर है तो एक बदमाश ने कहा कि दिन में तो वे यहीं थे। 
तभी कमरे के बाहर खड़ा एक नकाबपोश अन्दर आया और कमरे की खूंटी पर टंगी 315 बोर बंदूक एवं 12 बोर लाइसेंसी बंदूकों को देखकर उतार लिया और कहा कि किन्हें मारने के लिए इन्हे रखा हुआ है। जिस पर मैंने कहा कि ये तो बहुत पुरानी हैं, तो उन्होंने दोनो बंदूकें उतारी और अपने पास रख लीं। तभी एक ने कहा कि तेरे पास तो एक रिवाल्वर भी है। 
मैने कहा कि रिवाल्वर आलमारी में रखी हुई है तो उसने मुझसे आलमारी की चाबी ली और अपने आप रिवाल्वर निकाल ली जिसमें 6 कारतूस लोड थे। 
तभी मुझे एवं पत्नी को धमकाते हुए कहा कि तुम दोनों बूढ़़े हो नहीं तो तुम्हे गोली से उड़ा देते। अगर तुमने यह बात किसी को बतायी तो मारने की धमकी दी और मोबाइलों को साथ लेकर हमें कमरे में बन्द कर चले गये। 
जिसके बाद मैने कमरे की खिड़की से देखा तो नकाबपोश बदमाश संख्या में 6 से 7 थे। जो मकान की दीवार कूदकर चले गये और हमारे मोबाइलों को मकान में पटक गए। 
जिसके बाद मेरी पत्नी ने पड़ोसी को जगाया और उसके मोबाइल से बच्चों को सूचना दी। जिस पर बच्चों ने गांव के एक अन्य ग्रामीण सहित पुलिस को सूचना दी। 
जिसने पहुंच कर कमरे की कुंदी खोली और हमें बाहर निकाला। 
सूचना मिलते ही भुसावर सीओ महेन्द्र कुमार शर्मा सहित पुलिस जाप्ता मौके पर पहुंचा और घटना की जानकारी लेते हुए नाकाबंदी करवाकर बदमाशों की तलाश की। 
पीडित ने बताया कि सभी बदमाश पेन्ट एवं टीशर्ट में थे और उनकी उम्र 35 से 40 वर्ष के करीब थी।

No comments:

Post a Comment