भरतपुर - रैगिंग लेने वाले 10 सीनियर छात्रों की हुई पहचान, महाविद्यालय से किये निलंबित - News Desktops

Breaking

Monday, September 9, 2019

भरतपुर - रैगिंग लेने वाले 10 सीनियर छात्रों की हुई पहचान, महाविद्यालय से किये निलंबित



भरतपुर - कई दिन से रैगिंग की चर्चाओं के बाद मेडिकल कालेज प्रशासन ने आखिरकार सोमवार को मान ही लिया कि बॉयज हास्टल में रैगिंग हुई थीं। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर प्रशासन रैगिंग लेने वाले 10 सीनियर छात्रों की पहचान कर ली है। इनमें से एक छात्र ने अपने जूनियर से हाथापाई भी की थी। जिसे एक साल के लिए निलंबित कर दिया गया है। जबकि बाकी 9 छात्रों को 6 माह के लिए निलंबित किया गया है। इन सभी को हमेशा के लिए हॉस्टल से भी निकाल दिया गया है। इनमें ज्यादातर छात्र उत्तर प्रदेश के रहने वाले बताए जा रहे हैं।
कॉलेज प्रशासन ने सेवर पुलिस थाने को इस संबंध में एक पत्र भी भेजा। पत्र में उल्लेख किया गया है कि 6 सितंबर की रात 9 से 10 बजे के बीच बॉयज हास्टल में रैगिंग का मामला सामने आया है। कॉलेज की एनटी रैगिंग टीम भी कार्रवाई कर रही है। आवश्यक कार्रवाई के लिए सूचना प्रेषित है। इसकी प्रति जिला कलेक्टर और चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों को भी भेजी गई है। इसके बाद सीओ ग्रामीण परमाल सिंह गुर्जर एवं सेवर एसएचओ दौलतराम गुर्जर और प्रशासन की ओर से तहसीलदार मनीष कुमार मौके पर पहुंचे। उन्होंने संबंधित लोगों से रैगिंग के बारे में पूछताछ की। सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले। इसमें पाया गया कि कॉलेज में रैगिंग हुई थी। इसमें एक छात्र का अपने जूनियर से हाथापाई और मुंह मरोड़ते हुए फोटो भी सामने आए हैं। कालेज स्टाफ ने रैगिंग लेने वाले 10 छात्रों की पहचान की है। प्राचार्य डॉ. रचना नारायण ने दोषी छात्रों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए हैं। मौके पर नियुक्त एक गार्ड को पहले ही निलंबित किया जा चुका है।

No comments:

Post a Comment