रुदावल - रिश्ता होने के बाद लगी शिक्षक की नौकरी, दहेज़ में मांगे छह लाख रुपए और कार - News Desktops

Breaking

Tuesday, June 11, 2019

रुदावल - रिश्ता होने के बाद लगी शिक्षक की नौकरी, दहेज़ में मांगे छह लाख रुपए और कार





रुदावल -  गांव एक्टा में वर पक्ष द्वारा लग्न टीका के बाद शादी में छह लाख व कार की मांग को लेकर शादी करने से मना करने पर लड़की ने भी दहेज लोभी पति से शादी करने से इंकार कर दिया। जिससे रिश्ता खत्म होने पर वर पक्ष ने लग्न टीका में दिए गए सामान व नकदी को वापस लौटाने से मना कर दिया। घटना के संबंध में लड़की के पिता ने नामजद लोगों के खिलाफ रुदावल थाना पुलिस में मामला दर्ज कराया है।

रुदावल एसएचओ मुकेश कुमार ने बताया कि कस्बा निवासी हरीसिंह पुत्र किशनसिंह कुशवाह ने मामला दर्ज कराया है कि उसने छोटी पुत्री राजकुमारी का रिश्ता माह फरवरी में गांव एक्टा निवासी कृष्णमुरारी पुत्र कमलसिंह के साथ तय किया। जिसमें 28 अप्रैल 2019 की शादी तय हुई। रिश्ता होने के बाद कृष्णमुरारी की तृतीय श्रेणी शिक्षक पद पर नियुक्ति हो गई।

शादी के मुहूर्त के अनुसार वह 24 अप्रैल को लग्न टीका में हैसियत के अनुसार एक सोने की जंजीर व अंगूठी, एक बाइक, 4 लाख 11 हजार रुपए, स्टील व पीतल के बर्तन आदि सामान एवं बतौर भेंट 11 हजार रुपए दिए। लग्न टीका के कमलसिंह कमरे में ले गया, जहां पर लड़का कृष्णमुरारी, चाचा हरभानसिंह, मां महादेवी, बहन उगंता, मामा अशोक, बिचौलिया थानसिंह ने कहा कि जब तुमने लड़के का रिश्ता किया तो तब उसकी नौकरी नहीं थी। अब सरकारी अध्यापक हो गया है, इसलिए अब आपको शादी में छह लाख रुपए व एक कार देनी पड़ेगी। जब हैसियत के अनुसार देने की बात कही तो लड़का कृष्णमुरारी गुस्सा हो गया और बोला कि मास्टरों की रेट 20 लाख है। छह लाख रुपए व कार देने पर ही लड़की से शादी करूंगा, अन्यथा शादी नहीं करूंगा। इसके बाद घर पर आकर पत्नी व पुत्री को घटना के बारे में बताया तो पुत्री ने दहेज लालची लड़के से शादी करने से इंकार दिया। जिस पर कृष्णमुरारी से रिश्ता खत्म करने का निर्णय ले लिया। इसके बाद गांव एक्टा में कमलसिंह से संबंध खत्म करने एवं लग्न टीका में दिए गए सामान व नकदी वापस मांगी तो कमलसिंह ने देने से मना कर दिया और धमकी देकर भगा दिया।

No comments:

Post a Comment