डीग - पत्नी की गला दबाकर हत्या करने के मामले में सजा काट रहे युवक ने की जेल में आत्महत्या - News Desktops

Breaking

Monday, May 20, 2019

डीग - पत्नी की गला दबाकर हत्या करने के मामले में सजा काट रहे युवक ने की जेल में आत्महत्या



www.apnobharatpur.com


डीग। पत्नी की हत्या के आरोप में जेल काट रहे विचाराधीन एक बंदी ने शनिवार रात डीग उप कारागृह में साफी से फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। जेल प्रशासन की सूचना पर राजकीय चिकित्सालय से उप कारागृह पंहुचे चिकित्सकों ने बंदी को मृत घोषित कर दिया। आत्महत्या के कारणों का अब तक कोई खुलासा नहीं हुआ है। घटना के बाद जेल में हडकंप मच गया। देर रात ही मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए राजकीय चिकित्सालय डीग पहुंचाया और परिजनों को घटना की जानकारी दी गई। रात करीब 8 बजे मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया। सूूचना पर उपखण्ड अधिकारी साधुराम जाट, थाना प्रभारी महेन्द्र सिंह रात ही डीग उप कारागृह पंहुच गए। मामले की न्यायिक जांच अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट नगर (2) गोविन्दराम मीणा कर रहे है। एसीजेएम मीणा ने रात ही डीग उप कारागृह पहुंचकर घटना की जानकारी ली। आला अधिकारियों ने घटनाक्रम को लेकर पूरे मामले की वीडियोग्राफी कराई। घटना को लेकर उप कारापाल मुंशीराम मीणा ने डीग थाने में मर्ग दर्ज कराई है। मृतक बंदी 2 सितम्बर 2018 को पत्नी की हत्या के आरोप में डीग जेल में आया था। 

डीग. कस्बा स्थित उप कारागृह। 

बंदी ने उठाया था अंधेरे का फायदा, बिजली आने पर चल सका पता 

मृतक बंदी उप कारागृह के बैरक नम्बर 3 में था। उप कारागृह में रात बिजली गुल होने के बाद बंदी ने अंधेरे का फायदा उठाकर बैरक में लगे जंगले में साफी का फंदा लगाकर फांसी लगा ली। बैरक में अंधेरा होने के कारण अन्य बंदियों को घटना का पता नहीं चल सका। बाद में बिजली आने पर बंदियों ने सुन्दर को बैरक के जंगले पर लटका हुआ देखा। जिसकी सूचना बंदियों ने जेल पुलिसकर्मियों को दी। 

पत्नी की हत्या की सूचना खुद ने दी थी 

कैथवाडा थाने के गांव अभयपुर (हूरपुडी) निवासी मृतक बंदी सुन्दर पुत्र रामफल जाटव ने 31 अगस्त 2018 की रात शराब के नशे में अपनी पत्नी सपना की साफी से गला दबाकर हत्या की थी। वारदात के बाद सुन्दर ने खुद ही हत्या करने की इत्तला पुलिस को दी थी। मृतक के दो बच्चे है।

No comments:

Post a Comment