भरतपुर - आपनो भारतपुर न्यूज़ वेब पोर्टल और भरतपुर न्यूज़ चेनल द्वारा राष्ट्रिय कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया - News Desktops

Breaking

Monday, March 18, 2019

भरतपुर - आपनो भारतपुर न्यूज़ वेब पोर्टल और भरतपुर न्यूज़ चेनल द्वारा राष्ट्रिय कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया





भरतपुर - कल दिनांक 17/03/2019 रविवार  को आपनो भारतपुर न्यूज़ वेब पोर्टल की तरफ से राष्ट्रिय कवि सम्मेलन का आयोजन मुरली प्लाज़ा मेरिज होम मे भरतपुर न्यूज़ चेनल के तत्वाधान मे आयोजित किया गया|


 राष्ट्रिय कवि सम्मेलन की शुरुआत मुख्य अतिथि यतिश शर्मा जी (पूर्व चेयरमेन न॰पा॰डीग) द्वारा दीप प्राज्वालित कर एवं आपनो भरतपुर न्यूज़ पोर्टल के डायरेक्टर मणिशंकर पुष्प द्वारा साफा एवं माला पहनाकर सम्मानित किया गया| कार्यक्रम की अध्यक्षता बबलू मीणा जी(राष्ट्रिय अध्यक्ष मीणा आदिवासी महासभा), विशिष्ट अतिथि नटवर सिंह जी(रा॰शा॰शि॰ संघ प्रदेश महामंत्री), सुनील गोयल (कोषाध्यक्ष भाजापा) अतिथियों का भरतपुर न्यूज़ चेनल के डायरेक्टर मिलन अग्रवाल द्वारा साफा एवं माला पहनाकर सम्मान किया गया|
सम्मेलन मे पधारे आतिथि शिवानी दायमा, गिरीश जौहरी, पाहड़िया, बबीता शर्मा, विपेन्द्र बंसल, प्रमोद गर्ग, कुल्दीप धाऊ, इन्द्रजीत भारद्वाज, मुकेश फौजदार राजघराना, सुरेश फौजदार, आदि गणमान्य लोगो ने कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई |
कार्यक्रम मे पधारे कविगण सतीश मधुप (राष्ट्रिय गीतकार) इटावा, विजय विद्रोही (हास्य सम्राट) प्रतापगढ़,संयोजक  जगदीश खटाना (वीररस) बयाना, राधिका मित्तल (श्रंगार रस एवं गीत) गाजियाबाद, एवं अपने भरतपुर के चहेते कवि ललतेश कुशवाह (हास्य) रूपवास थे |



कवि सम्मलेन की शुरुआत  गाजियाबाद से आई कवियत्री राधिका मित्तल ने माँ शारदे की वंदना से की |
कवियत्री राधिका मित्तल की श्रृंगार एवं गीतों को सुनकर श्रोताओं को वाह वाह करने पर मजबूर कर दिया अंत में  " ए वतन जान ओ दिल तुझ पे कुरबान है।
सारी दुनिया मे तेरी अलग शान है।
मिल के रहते है हिंदू मुसलमा यहाँ
मेरे  हिन्दुस्ता की यह पहचान है


वही इटावा से आए कवि सतीश मधुप ने अपने गीतों से समा बाधा "बड़ी हो भीड़ दुश्मन की मगर वो जंग हारेगी ।
खुदा ,ईशा ,पयम्बर और ईश्वर को पुकारेगी।
जिन्हें डर मौत से लगता ,वही हर रोज मरते है।

प्रताप गढ़ से आए हास्य सम्राट विजय विद्रोही ने अपनी हास्य व्यंग्य कविताओं से हँसा हँसा कर पेट फाड़ने पर मजबूर कर दिया अंत मे देश भक्ति की बात कर अपना काव्य पाठ समाप्त किया "गर्व तुम पर जाबाजो अब ना कोई देर करो और कवि विजय विद्रोही जी ने भरतपुर की सूजान गंगा मे डूबी छात्रा के ऊपर बहुत शानदार काव्य पाठ किया भरतपुर की वीरता का बखान किया|

इसी श्रंखला मे कुम्हेर से आए कवि सुरेश फौजदार ने "करुं जब याद मैं उनको खुशी दिल में समा जाए।
नमन करता हूं मैं उनको वतन के काम जो आए। अपने काव्य पाठ से शश्रोतागणों का मन मोह लिया|

कार्यक्रम का संचालन कर रहे बयाना के कवि जगदीश खटाना ने पुलवामा मे हुये अटेक पर ब्बहुत शानदार कविता काहीअब की बार अगर पुलवामा को तुमने दोहराया तो
भारत के बेटों पर फिर से कोई घात लगाया तो
सब आतंकी अड्डों का हम नामनिशान मिटा देंगे
सुनो मियाँ इमरान समूचा पाकिस्तान मिटा देंगे

रूपवास के कवि ललितेश कुशवाहा ने  हास्य कविताओं से हँसा हंसा कर पेट फाड़ने पर मजबूर कर दिया।वही महिलाए
सोभा न देती है जीन्स टीशर्ट कुर्ता और सलवार मे ,महिलाएं सोभा देती है तो साड़ी के अवतार में।

कार्यक्रम का संचालन बयाना के कवि जगदीश खटाना ने किया संचालन करते हुए
अब की बार अगर पुलवामा को तुमने दोहराया तो
भारत के बेटों पर फिर से कोई घात लगाया तो
सब आतंकी अड्डों का हम नामनिशान मिटा देंगे
सुनो मियाँ इमरान समूचा पाकिस्तान मिटा देंगे ...।।।

देश के कोने कोने से पधारे सभी कवियों ने अपनी कविताओं से लोगो पर ताली बजवाने पर मजबूर कर दिया।

No comments:

Post a Comment