भुसावर-अमेरिका से आये भामाशाह ने देखा जीर्णोद्धार का कार्य - News Desktops

Breaking

Wednesday, February 20, 2019

भुसावर-अमेरिका से आये भामाशाह ने देखा जीर्णोद्धार का कार्य

अमेरिका से पैतृक गाॅव पहुॅचे भामाशाह, मोक्षधाम में कराये गये 11 लाख के विकास कार्यो का किया अवलोकन
मोक्षधाम में 21 पौद्ये लगाकर दी शहीदों को श्रृद्वांजलि
भुसावर- गाॅव रणधीरगढ के मोक्षधाम की जर्जर अवस्था देख अपने माता-पिता की याद में 11 लाख रूपये की लागत से विकास कार्य कराकर मोक्षधाम की तस्वीर बदलने वाले हाल अमेरिका निवासी 72 वर्षीय भामाशाह रघुवीर शरण सिंघल अपनी पत्नि इंद्रा सिंघल के साथ अपने पैतृक गाॅव पहुॅचे जहां उन्होने अपने द्वारा कराये गये विकास कार्यो का अवलोकन किया और गाॅव में कोई भी अन्य समस्याओं को दूर करने के लिए हमेशा अग्रणी रहकर विकास कार्य कराने की बात कही। जिस पर ग्रामीणों ने तालियों की गडगडाहड के साथ उनका उत्साहवर्धन करते हुए धन्यवाद दिया। वहीं भामाशाह अपने गाॅव के मोक्षधाम की बदलती हुई तस्वीर एवं लोगों द्वारा दिये गये सम्मान को देखकर गद्गद हो गये। गाॅव रणधीरगढ के ग्रामीणों ने मोक्षधाम में स्वागत समारोह कार्यक्रम किया जिसमें भामाशाह रघुवीरशरण सिंघल एवं उनकी पत्नि इन्द्रा सिंघल सहित बाबा रामदेव के पर्सनल सैकेट्री रहे अजय आर्य, विजय आर्य और हरिप्रसाद गुप्ता का साफा एवं माला पहनाकर स्वागत किया। स्वागत सम्मान कार्यक्रम के बाद भामाशाह द्वारा मोक्षधाम में कराये गये कार्यो का अवलोकन किया गया और ग्रामीणों से गाॅव के विकास के लिए विभिन्न जानकारियां लीं। भामाशाह रघुवीर शरण सिंघल एवं उनकी पत्नि इन्द्रा सिंघल ने गाॅव बल्लभगढ के राजकीय बालिका विद्यालय में अपने द्वारा बडा हाॅल बनाकर छात्राओं को हो रही परेशानियों से निजात दिलाने की बात कही। इस अवसर पर टीकम सिंघल सहित ग्रामीणों का विशेष सहयोग रहा। ज्ञात है कि भामाशाह रघुवीर शरण सिंघल ने अपने पैतृक गाॅव के मोक्षधाम की जर्जर हालत एवं अन्तिम संस्कार में लोगों को हो रही परेशानियों को देखकर 11 लाख रूपये की लागत से एक बडा हाॅल, पानी का ट्यूबवैल, मोक्षधाम की वाउण्ड्री, भर्त, बैठने के लिए ब्रेंच सहित विभिन्न कार्य कराये हैं जिससे मोक्षधाम की तस्वीर बदल गई। भामाशाह हाल अमेरिका निवासी रघुवीर शरण सिंघल ने बताया कि अपने पैतृक गाॅव से दूर विदेश में रहकर अपने गाॅव मंे विकास कार्य करने की प्रेरणा मिली।
पौद्यारोपण कर दी शहीदों को श्रृद्वांजलि-
अमेरिका से अपने पैतृक गाॅव आये भामाशाह रघुवीर शरण सिंघल ने जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए भारत माता के वीर सपूतों को दो मिनट का मौन धारण कर श्रृद्वांजलि देते हुए मोक्षधाम में 21 पौद्ये लगाये और ग्रामीणों को भी पौद्ये लगाकर स्वच्छ भारत मिशन में भागेदारी निभाने की बात कहते हुए जीवन में स्वच्छता का महत्व बताया।



No comments:

Post a Comment