नगर -शहीद जीतराम को 20 हजार लोगों ने दी नम आंखों से विदाई,पुलवामा में हुये थे शहीद - News Desktops

Breaking

Saturday, February 16, 2019

नगर -शहीद जीतराम को 20 हजार लोगों ने दी नम आंखों से विदाई,पुलवामा में हुये थे शहीद

शहीद जीतराम को दी अंतिम विदाई


जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले में शहीद हुये  भरतपुर के लाल जीतराम की भी उनके पैतृक गांव सुंदरावली में सैन्य सम्मान से अंत्येष्टि की गई है।  सेना के जवानों ने फायरिंग कर शहीद जीतराम को अंतिम विदाई दी। इस दौरान केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल ने शहीद की पार्थिव देह पर पुष्प चक्र अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।
गांव सुंदरावली निवासी 30 वर्षीय शहीद जीतराम गुर्जर सीआरपीएफ की 92वीं बटालियन में जवान के पद पर तैनात थे। वह पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हो गए थे और जिनकी पार्थिव देह शनिवार सुबह नगर पहुची ।नगर कस्बा में होकर उनकी यात्रा निकाली गई ।जहाँ लोगो ने छतों से उनके ऊपर पुष्प वर्षा कर अंतिम विदाई दी ।उसके बाद पार्थिव देह उनके घर पहुंची ।



शहीद के घर में उसकी पत्नी सुंदरी देवी, दो मासूम बच्चियां, पिता राधेश्याम गुर्जर, भाई विक्रम सिंह, मां गोपा देवी हैं। शहीद का भाई विक्रम सिंह अभी बेरोजगार है । केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने शहीद जीतराम को श्रद्धांजलि देने के बाद बोले कहा कि " शहीद जीतराम को नमन  किया है और श्रद्धांजलि दी, इस समय जनता में  आतंकियों के खिलाफ आक्रोश हैं, रिपोर्ट बनाकर पीएम और कैबिनैट को सौंपी जायेगी, हमारी सेना जल्दी ही आतंकियों को करारा जबाब देगी ।अंतिम विदाई में राज्यमंत्री भजन लाल जाटव ,जिला कलेक्टर डॉ आरुषि अजय मलिक सहित जन प्रतिनिधियो व प्रशासनिक अधिकारियों भी शरीक हुये ।जिनकी सभी की आंखे नम दी ।

गत 12 फरवरी को छुट्टी बिताकर गया था वापिस....
...



जीतराम ने 2010 में सीआरपीएफ ज्वॉइन की थी, जिसकी शादी करीब 5 वर्ष पूर्व ही हुई थी और घर में कमाने वाला भी वह अकेले थे, लेकिन अब उनके शहीद होने के बाद आज उनके घर में कमाने वाला फिलहाल कोई नहीं बचा है।
ग्रामीणों ने बताया कि
शहीद जीतराम अभी गत माह अपने घर छुट्टी आया था और विगत 12 फरवरी को ही छुट्टी बिताकर अपनी ड्यूटी पर लौटे थे। वह काफी मिलनसार व्यक्ति थे और गांव में युवाओं को आर्मी में भर्ती होने की सलाह दिया करते थे, जिससे देश की सेवा की जा सके।

No comments:

Post a Comment