भुसावर- भूल हमें और अधिक श्रेष्ठ बनाने का अवसर प्रदान करती है- विजय भारती - News Desktops

Breaking

Friday, January 4, 2019

भुसावर- भूल हमें और अधिक श्रेष्ठ बनाने का अवसर प्रदान करती है- विजय भारती



भुसावर- गाॅव बल्लभगढ के भायलावास स्थित मन्दिर पर पिछले सात दिनों से पढी जा रही श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर हवन यज्ञ के साथ प्रसादी वितरण कार्यक्रम हुआ। जिसमें पहुॅचकर भक्तों ने आहूतियां देकर प्रसादी का आनन्द लिया। गाॅव बल्लभगढ के भायलावास स्थित मन्दिर पर श्रीमद् भागवत कथा समापन पर हवन यज्ञ कार्यक्रम हुआ। जिसमें कथा व्यास सुश्री विजय भारती मथुरा द्वारा मंत्रोच्चारण के साथ ग्रामीणों से आहूतियां दिलवाकर गाॅव एवं देश में सुख शान्ति के लिए प्रार्थना की। वहीं कथा समापन कार्यक्रम में बोलते हुए कथा व्यास भारती ने उपस्थित श्रोताआंे को बताया कि भूल एवं मनुष्य का संबंध धारा और नदियों, पंख एवं चिडिया जैसा है। यदि भूल मनुष्य के स्वभाव का इतना महत्वपूर्ण अंग है तो इस पर लज्जा क्यों करता है मनुष्य। जबकि भूल हमें और अधिक श्रेष्ठ बनाने का अवसर देती है, पहले से अच्छा प्रदर्शन करने की प्रेरणा देती है। हमें हमेशा भूल करने के बाद स्वीकार कर लेना चाहिए बरना वह भूल दोष में बदल जाती है और वह अपराध में। इसलिए मनुष्य को अपनी भूल को स्वीकार करते हुए उसे सुधारने का कार्य करना चाहिए। श्रीमद् भागवत के समापन पर महाआरती एवं प्रसादी वितरण किया गया। जिसमें हजारों ग्रामीणों ने भाग लिया। इस अवसर पर श्याम सुन्दर शर्मा, सोनू सैनी, पंकज, माधव शास्त्री, संजय, यज्ञप्रिय, राजन पाराशर, दिलीप सैनी सहित कई भक्तों का विशेष सहयोग रहा। वहीं भागवत कथा के समापन पर महिलाओं ने नृत्य करते हुए ठाकुर जी के समक्ष हाजरी लगायी।  

भुसावर से शुभम गुप्ता की रिपोर्ट 

No comments:

Post a Comment