पहाडी -सांवलेर में नाबालिग दुष्कर्म मामले में बालिका ने अपने परिजनो पर लगाये गंभीर आरोप - News Desktops

Breaking

Tuesday, January 29, 2019

पहाडी -सांवलेर में नाबालिग दुष्कर्म मामले में बालिका ने अपने परिजनो पर लगाये गंभीर आरोप




पहाड़ी थाने के गांव सांवलेर में एक नाबालिग बालिका के दुष्कर्म के बाद हथियारों के बल अपहरण के मामले में अब एक नया मोड़ आ गया । जब दो अन्य आरोपियों ने नाबालिग बालिका व उसके प्रेमी अजरू मेव को ग्वालियर से लाकर कामां डीएसपी रायसिंह बेनीवाल के सामने  पेश किया तो  पीडित बालिका ने अपने ही परिजनों पर मारपीट के आरोप लगाये।

डीएसपी राय सिंह बेनीवाल के अनुसार  पहाड़ी थाना के गांव सांवलेर निवासी नाबालिग बालिका के गांव के ही अजरू नाम के युवक से प्रेम संबंध है । दोनो प्रेमी प्रेमिका ने एक फोटो भी खिंचवाकर रखा हुआ है । जिसकी जानकारी परिजनो को हुई तो परिजनो ने नाराज होकर बालिका पर दबाव बनाकर प्रेमी व चार अन्य युवकों के खिलाफ पहाडी थाने में दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया।  मामला दर्ज होने के बाद
 बयान देने के लिए परिजनों ने बालिका के साथ मारपीट की । जिससे नाराज होकर बालिका 25 जनवरी को घर से गायब होकर गांव के ही खेतों में जाकर छिप गई।  रात दस बजे तक खेतों में छिपी रही। जब उसे ठंडे सताने लगी तो गांव कठौल में  एक वृद्धा के पास पहुंच गई जहां रात गुजारकर सुबह अपने प्रेमी के साथ कामां से होते हुये ट्रेन द्वारा ग्वालियर के लिए रवाना हो गई।

बालिका के घर से चले जाने के बाद परिजनों ने पुलिस को गुमराह करते हुए गांव के ही कुछ लोगों पर अपहरण का मामला दर्ज करा दिया था । पुलिस के दबाव के चलते मामले में नामजद दो अन्य युवकों नासिर व शहीद मेव प्रेमी प्रेमिका का पीछा कर उन्हें ट्रेन से इंदौर जाते समय रास्ते में ही उतार लिया और कामा डीएसपी के सामने  पेश किया । जहां बालिका ने मामले का खुलासा करते हुए अपने परिजनों पर ही हथियारो के बल धमकाने और झूठा मामला दर्ज कराने के आरोप लगाए और कहा कि ना तो उसके साथ दुष्कर्म हुआ है ना ही उसका अपहरण वह स्वेच्छा से ही अपने प्रेमी के साथ ग्वालियर जा रही थी। पुलिस ने पीड़िता के बयान व मेडिकल कराकर नारी निकेतन भेज दिया

No comments:

Post a Comment