वैर-कल बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने राजे पर कसा सिकंजा - News Desktops

Breaking

Wednesday, November 28, 2018

वैर-कल बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने राजे पर कसा सिकंजा

 वैर-कल बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत  जी ने राजे पर कसा सिकंजा



वैर-कल बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत  जी ने राजे पर कसा सिकंजा


वैर। बसुंधरा राजे सिन्धिया प्रदेश की टाईमपास मुख्यमंत्री रही है। वह टाईम पास मुख्यमंत्री के रूप में जानी जायेगी। तथा मुख्यमंत्री को धोखेबाज व घमंडी मुख्यमंत्री बताया तथा उनके  पांच साल के शासन को कुशासन बताया । बीजेपी सरकार द्धारा निकाली गई गौरव यात्रा को उनकी  विदाई यात्रा साबित होगी। अपने 20 मिनट के भाषण में भाजपा सरकार के शासन काल की जोरदार आलोचना की। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत  ने कांग्रेस प्रत्याशी भजन लाल जाटव के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुये कहे।  अशोक गहलोत ने कहा कि लोकतंत्र में शान्ति पूर्वक प्रदर्शन करने का अधिकार सबको होता है। मुख्यमत्री बसुंधरा राजे काले कपडा देखकर भडक जाती है। जबकि छोटे बच्चो की मां नजर उतारने के लिये काला टीका लगाती है। उन्होने बसुंधरा राजे को महलो की रानी बताते हुये घमंडी बताया । आम जनता से उसका मिलना बडा मुश्किल काम है। उन्होने सरकार को आडे हाथो लेते हुये कहा कि कांग्रेस सरकार के द्धारा चलाई गई बडी योजनाओ को बसुंधरा सरकार ने बंद कर दिया। । हमारे राजीव सेवा केन्द्र को अटल सेवा केन्द्र के नाम में बदल दिया। पहले जो पेंशन मनीऑर्डर से घरों पर पहुचती थी। अब बैंको के चक्कर लगाने पड रहे है। हमारे कार्यकाल में भूखा मरना तो दूर रहा । कोई भूखा सोया तक नही है। उन्होने कानून व्यवस्था की हालत खराब बताई। चोरी डकैती बलात्कार आम बात हो गई। महंगाई बेरोजगारी बढी है। गैस का सिलेंडर कांग्रेस के शासन काल में जो करीब 360 रूपये का मिलता था अब साढे नौसो रूप्ये का मिलता है। विधानसभा वैर पहाडिया का इलाका है।जिससे इस क्षेत्र की पहचान दूर दूर तक बनी है। बीजेपी ने 15 लाख नौकरी देने का बायदा किया था। अलवर में चार युवक बेरोजगारी की प्रताडना सहते हुये मर गये। उन्होने कहा कि हम सुख दुख में साथ रह विकास में भागीदारी करेगे। उन्होने कांग्रेस के प्रत्याशी भजन लाल जाटव के समर्थन में मतदान करने की अपील की। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत निर्धारित समय एक बजकर 15 मिनट पर हैलीकॉप्टर से वैर आये । नगर पालिका परिसर में सभा स्थल के समीप ही एक ओर हैलीपैड बनाया गया था। जहां से सीधे ही मंच पर पहुचकर अपना उदबोधन किया गया। इससे पूर्व गहलोत का 51 किलो की माला से स्वागत किया गया।

आपनो भरतपुर की रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment