बयाना-महिला सीएम के राज में भी बेटियां असुरक्षित रोज हो रही दुष्कर्म की 6 घटनाएं-पायलटप - News Desktops

Breaking

Monday, October 8, 2018

बयाना-महिला सीएम के राज में भी बेटियां असुरक्षित रोज हो रही दुष्कर्म की 6 घटनाएं-पायलटप



बयाना। भाजपा सरकार को 5 साल पहले कभी किसानों की चिंता नहीं हुई। लेकिन, आचार सहिंता लगने से एक घंटा पहले अचानक किसानों की याद आ गई। मुख्यमंत्री राजे ने किसानों से लुभावने वादे कर डाले। जबकि इससे पहले 5 साल तक यही भाजपा सरकार किसान विरोधी रही है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने रविवार को पहाड़ी कस्बे में हुए किसान सम्मेलन में भाजपा सरकार पर यह टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि राज्य में महिला मुख्यमंत्री होते हुए भी बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। प्रदेश में रोजाना आधा दर्जन से अधिक दुष्कर्म की घटनाएं हो रही हैं। सचिन ने कहा कि यूं तो राज्य की मुख्यमंत्री अपने आप को शेरनी कहती हैं। लेकिन, आम मतदाता का डर इतना है कि उन्होंने अपनी सभाओं में काले रंग का कोई भी सामान लाने पर पाबंदी लगा रखी है। स्पष्ट निर्देश दिए हुए हैं कि कोई भी काले रंग का कुछ भी समान लेकर सभा स्थल तक आएगा तो उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी। सरकार ने यह भी आदेश निकाले हैं कि जिस मकान की छत पर चढ़कर कोई नारेबाजी करेगा तो उस मकान मालिक के खिलाफ भी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने एक काला कानून लाने का प्रयास किया था। जिसमें पत्रकारों को दो साल की सजा का प्रावधान किया गया था। लेकिन, आम लोगों में इसका जबरदस्त विरोध हुआ। इससे पहले प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट अपनी प्राइवेट गाड़ी में दिल्ली से चलकर हरियाणा होते हुए फिरोजपुर झिरका पहुंचे। वहां से पहाड़ी की तरफ रवाना हुए। हरियाणा के वीवा बॉर्डर पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। इस अवसर पर सचिन पायलट और देवेंद्र यादव समेत जाहिदा खान ट्रैक्टर पर बैठकर राजस्थान बॉर्डर तक आए। उसके बाद गाड़ी चलाकर सभा स्थल पर पहुंचे। जहां कार्यकर्ताओं ने उन्हें चांदी का मुकुट पहनाकर सम्मानित किया।

रिपोर्ट:- संदीप कसाना संबाददाता बयाना/उच्चैन


No comments:

Post a Comment